कोरोना सहयोग योजना वैदिक प्रचारकों हेतु

हम आपको आर्य समाज के विद्वानों, प्रचारकों और गुरुकुलों के लिए सहयोग योजना में भाग लेने के लिए आमंत्रित करते हैं। यह योजना सार्वदेशीक आर्य प्रतिनिधि सभा एवं हरियाणा प्रादेशिक आर्य प्रतिनिधि सभा के साथ मिलकर चलाई जा रही है। सभी दान धारा 80G के तहत आयकर से मुक्त हैं।

हम उन लोगों के बहुत कृतज्ञ हैं, जिन्होंने अब तक हमारी सहायता करके सहयोग योजना को सफल बनाया है

सूची देखने के लिए यहां क्लिक करें

हम सहयोग योजना का विवरण नीचे साझा कर रहे हैं ताकि आप अपने योगदान को योग्य व्यक्तियों तथा संस्थाओं तक पहुचनें हेतु आश्वासित रहें:

इस योजना में आप निम्न में से किसी एक तरीके से दान दे सकते हैं।
  1. सहयोग योजना का उद्देश्य
  2. जाँच और चयन की प्रक्रिया
  3. सहयोग योजना की चयन एवं प्रबंधन मण्डली
  4. अभी तक (४ जुलाई २०२१) किया गया सहयोग और अग्रिम योजना
  5. सहयोग प्राप्तकर्ताओं की प्रतिक्रिया ।
  6. इस योजना में राष्ट्रीय स्तर पर समन्वय बैठाना  महत्वपूर्ण क्यों है ?
  7. दान कैसे करें और दाताओं की सूची

हम आपको आर्य समाज के विद्वानों, प्रचारकों और गुरुकुलों के लिए सहयोग योजना में भाग लेने के लिए आमंत्रित करते हैं। आप नीचे दिए गए बैंक विवरण में अपना सहयोग दे सकते हैं। सभी दान धारा 80G के तहत आयकर से मुक्त हैं।

हम उन लोगों के बहुत कृतज्ञ हैं, जिन्होंने अब तक हमारी सहायता करके सहयोग योजना को सफल बनाया है

सूची देखने के लिए यहां क्लिक करें

हम सहयोग योजना का विवरण नीचे साझा कर रहे हैं ताकि आप अपने योगदान को योग्य व्यक्तियों तथा संस्थाओं तक पहुचनें हेतु आश्वासित रहें:

  1. सहयोग योजना का उद्देश्य
  2. जाँच और चयन की प्रक्रिया
  3. सहयोग योजना की चयन एवं प्रबंधन मण्डली
  4. अभी तक (१८ जून २०२१) किया गया सहयोग और अग्रिम योजना
  5. सहयोग प्राप्तकर्ताओं की प्रतिक्रिया ।
  6. इस योजना में राष्ट्रीय स्तर पर समन्वय बैठाना  महत्वपूर्ण क्यों है ?
  7. दान कैसे करें और दाताओं की सूची
इस योजना में आप निम्न में से किसी एक तरीके से दान दे सकते हैं।

1. सहयोग योजना का उद्देश्य

हम सभी किसी न किसी तरह से कोरोना महामारी से प्रभावित हैं | परंतु आर्य समाज के विद्वानों, प्रचारकों और गुरुकुलों की आर्थिक स्थिति, जो पूरी तरह से आर्य समाज के कार्यक्रमों पर निर्भर है, काफी कठिन हो गई है। मार्च २०२० के बाद से कोई कार्यक्रम नहीं हुआ है और कम से कम कुछ और महीनों तक ना होने की संभावना है।

आर्य समाज की परंपरा को बनाए रखने के लिए विद्वानों, प्रचारकों और गुरुकुलों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए इस अत्यधिक संकट की स्थिति में उनका साथ देना हमारा नैतिक कर्तव्य है।

इसलिए आर्य समाज चेन्नई ने १० मई २०२१ से ३ महीने की अवधि के लिए वैदिक विद्वानों, प्रचारकों और गुरुकुलों का सहयोग करने की पहल की है। इसके लिए हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है।

2. जाँच और चयन की प्रक्रिया

यहाँ क्लिक करें

3. सहयोग योजना की चयन एवं प्रबंधन मण्डली

जैसा कि प्रक्रिया की विवरण में दिया गया है, चयन और जाँच में सम्बद्ध लोगों के दो समूह हैं।

  1. केंद्रीय चयन समिति जिसमें आर्य समाज चेन्नई के अध्यक्ष, मंत्री और कोषाध्यक्ष सदस्य हैं।
  2. देश भर से स्थानीय सलाहकार।

स्वामी सच्चिदानंद जी

वैदिक प्रचारक

आचार्य धनंजय जी

गुरुकुल पोंधा, देहरादून

आचार्य सोमदेव जी

वरिष्ठ विद्वान एवं उपदेशक

आचार्य विष्णु मित्र वेदार्थी जी

वरिष्ठ विद्वान एवं उपदेशक

श्री कन्हैयालाल आर्य जी

परोपकारिणी सभा अजमेर, हरियाणा आर्य प्रतिनिधि सभा

श्री विनोद कुमार आर्य जी

आर्य समाज, कानपुर

डॉ अशोक कुमार आर्य जी

आर्यावर्त केसरी संपादक

श्री अश्विनी आर्य जी

आर्य समाज, दिल्ली

डॉ राधाकिशन वर्मा जी

उप प्रधान, सार्वदेशिक आर्य प्रतिनिधि सभा, बैंगलोर

श्री महादेव प्रसाद आर्य जी

बिहार आर्य प्रतिनिधि सभा

श्री आनंद देव आर्य जी

आर्य समाज बड़ा बाज़ार, कलकत्ता

डॉ अशोक आर्य जी

आर्य समाज, सहारनपुर

इसके अतिरिक्त, आर्य समाज/ डीएवी चेन्नई के सदस्य और स्वयंसेवक इस योजना का संचालन कर रहें हैं:

4. अभी तक (१७ जुलाई २०२१) किया गया सहयोग और अग्रिम योजना

यह योजना सर्वदेशिक आर्य प्रतिनिधि सभा और हरियाणा आर्य प्रतिनिधि सभा के समन्वय से चलाई जा रही है। हम कुछ अन्य लोगों के साथ भी चर्चा कर रहे हैं। हम सभी प्रांत सभाओं और आर्य समाज को इस उद्देश्य के लिए हाथ मिलाने के लिए आमंत्रित करते हैं।

इस योजना में हमें ७७३ से अधिक प्रपत्र प्राप्त हुए हैं। इनमें से हमने ६०९ का अवलोकन कर लिया है और ३६१ को सहयोग पहुँचाने में समर्थ हुए हैं । अभी तक की कुल सहयोग राशि १३ लाख रु. है।

हमारी इच्छा प्रत्येक स्वीकृत आवेदक को ३ महीने के लिए सहयोग प्रदान करना है, क्योंकि प्रचार के पुनः आरंभ में समय लगेगा। जबकि चेन्नई आर्य समाज पहले महीने के लिए सहायता प्रदान कर रहा है, हम अन्य समाज और व्यक्तियों को इस योजना हेतु योगदान देने के लिए आमंत्रित करते हैं। एकजुट होकर, हम निश्चित ही, अपने प्रचारकों और गुरुकुलों को इस अभूतपूर्व संकट से उभरने में मदद कर सकते हैं।

5. सहयोग प्राप्तकर्ताओं की प्रतिक्रिया ।

सहयोग प्राप्तकर्ताओं की प्रतिक्रिया में से कुछ को साझा करते हैं। जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, प्राप्तकर्ता के नाम को गोपनीय रखा जाएगा ।

यह प्रतिक्रियायें आपको हमारे विद्वानों, प्रचारकों और गुरुकुलों की वर्तमान स्थितियों की जानकारी देने में सहयोगी होंगी।

6. इस योजना में राष्ट्रीय स्तर पर समन्वय बैठाना महत्वपूर्ण क्यों है ?

जैसा कि हम सभी को विदित है, विभिन्न आर्य समाजों एवं व्यक्तियों द्वारा आर्य विद्वानों और प्रचारकों का सहयोग किया जा रहा हैं। हमारा मानना है कि यदि हम इस योजना में सम्मलित रूप से कार्य करते हैं, तो यह हमारे प्रयास को कई गुना बढ़ा देगा। इसके लाभ निम्नलिखित हैं।

  1. यदि हम सहयोग करने के लिए एक स्थानीय दृष्टिकोण अपनाते है, अर्थात प्रत्येक आर्य समाज जरूरतमंद स्थानीय विद्वानों / प्रचारकों को सहयोग प्रदान करता है, तो ऐसे कई स्थान हैं जहां स्थानीय आर्य समाज सहयोग करने में असमर्थ हो या वहाँ कोई समाज ही ना हो।
  2. स्थानीय सलाहकारों के सहयोग से चयन कर बनायी हुई सूची के द्वारा योग्य आवेदकों को सहयोग पहुँचाया जा सकता है।
  3. इस सम्मलित प्रयास से प्रत्येक योग्य आवेदक को एक ही स्रोत से सहयोग मिले एवं कोई भी योग्य आवेदक सहयोग से वंचित ना रहे।
  4. सभी आवेदकों को सम्मानजनक रूप से सहयोग के साथ, उनकी गोपनीयता का आश्वासन दिया जाता है।
  5. यह प्रयास अनेक स्थानों द्वारा अलग अलग आवेदन प्राप्त, उनकी जांच और सहयोग करने के श्रम को बचाता है।

इसलिए, हम सभी आर्य समाज और व्यक्तियों को इस राष्ट्रीय योजना में समर्थन और योगदान करने हेतु एकजुट होने के लिए आमंत्रित करते हैं।

7. दान कैसे करें और दाताओं की सूची

इस योजना में आप निम्न में से किसी एक तरीके से दान दे सकते हैं।

  1. ऑनलाइन बैंक खाते द्वारा आर्य समाज बैंक खाते में स्थानांतरण (Transfer)
    खाते का नाम : आर्य समाज सेंट्रल चेन्नई
    खाता संख्या: 0306 0101 0000 1200
    IFSC कोड: PUNB0618000
    बैंकर: पंजाब नेशनल बैंक, गोपालपुरम, चेन्नई – 600086
  2. “आर्य समाज सेंट्रल (चेन्नई)” के पक्ष में चेक/डीडी बना कर निम्नलिखित पते पर डाक द्वारा भेजें:
    आर्य समाज सेंट्रल, 383, अव्वई शन्मुगम सालई , गोपालपुरम, चेन्नई-600 086, फोन # 72007 62629
  3. UPI ऐप का उपयोग कर कर भेजें 

कृपया डोनर फॉर्म में अपने योगदान का विवरण भरें:

यहाँ क्लिक करें

सभी योगदान, धारा 80G के तहत आयकर मुक्त है। हम सभी दानदाताओं को ईमेल और पोस्ट पर रसीद भेजेंगे।

दानकर्ताओं की सूची

सूची देखने के लिए यहां क्लिक करें

  • 212-213 Avvai Shanmugam Salai, Gopalapuram, Chennai – 600 086

  • +91-72007 62629 | +91-93810 18807